सम्पूर्ण चाणक्य नीति | Chanakya Niti in Hindi Fifth chapter

 सम्पूर्ण चाणक्य नीति - Complete Chanakya Niti in Hindi 
Chanakya Niti - Chapter 01 Chanakya Niti - Chapter 02
Chanakya Niti - Chapter 03 Chanakya Niti - Chapter 04
Chanakya Niti - Chapter 05 Chanakya Niti - Chapter 06
Chanakya Niti - Chapter 07 Chanakya Niti - Chapter 08
Chanakya Niti - Chapter 09 Chanakya Niti - Chapter 10
Chanakya Niti - Chapter 11 Chanakya Niti - Chapter 12
Chanakya Niti - Chapter 13 Chanakya Niti - Chapter 14
Chanakya Niti - Chapter 15 Chanakya Niti - Chapter 16
Chanakya Niti - Chapter 17 Chanakya Niti PDF


चाणक्य नीति - पांचवा अध्याय | Chanakya Niti in Hindi Fifth chapter

Chanakya niti in Hindi, Chankya niti in Hindi, Chanakya quotes images, best Chanakya thoughts, Chanakya about life,

01).

Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi

" ब्राह्मणों को अग्नि की पूजा करनी चाहिए

 दुसरे लोगों को ब्राह्मण की पूजा करनी चाहिए

 पत्नी को  पति की पूजा करनी चाहिए 

तथा दोपहर के भोजन के लिए जो अतिथि आये 

उसकी सभी को पूजा करनी चाहिए  "

" Brahmins should worship Agni. Others should worship Brahmin. The wife should worship the husband and all the guests who come for lunch should worship him "


02).

Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi


" सोने की परख उसे घिस कर,

 काट कर

 गरम कर के 

और पीट कर की जाती है

 उसी तरह व्यक्ति का परीक्षण 

वह कितना त्याग करता है

उसका आचरण कैसा है

उसमे गुण कौनसे है और 

उसका व्यवहार कैसा है इससे होता है "

" Gold is tested by grinding it, cutting it, heating it and beating it. In the same way, a person's test is how much he sacrifices, how is his behavior, what are his qualities and how is his behavior "


03).
Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi

" यदि आप पर मुसीबत आती नहीं है तो
 उससे सावधान रहे
 लेकिन यदि मुसीबत आ जाती है तो 
किसी भी तरह उससे छुटकारा पाए "

" If you do not face trouble, then beware of it. But if trouble comes, then somehow get rid of it "



04).

Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 


" अनेक व्यक्ति जो एक ही गर्भ से पैदा हुए है 
या एक ही नक्षत्र में पैदा हुए है
 वे एकसे नहीं रहते
 उसी प्रकार जैसे बेर के झाड के सभी बेर
 एक से नहीं रहते "

" Many people who are born from the same womb or are born in the same constellation do not live together. In the same way, not all the jujube of the jujube tree remains the same "


05).
Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 

" वह व्यक्ति जिसके हाथ स्वच्छ है 
कार्यालय में काम नहीं करना चाहता
 जिस ने अपनी कामना को ख़तम कर दिया है
 वह शारीरिक शृंगार नहीं करता
 जो आधा पढ़ा हुआ व्यक्ति है 
वो मीठे बोल बोल नहीं सकता
 जो सीधी बात करता है 
वह धोका नहीं दे सकता "

" The person with clean hands does not want to work in the office. The person who has finished his wish, does not do physical grooming, the person who is half-read cannot speak sweet words. He who talks straight cannot cheat "


06).

Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 

" मूढ़ लोग बुद्धिमानो से इर्ष्या करते है
 गलत मार्ग पर चलने वाली औरत 
पवित्र स्त्री से इर्ष्या करती है
 बदसूरत औरत,
 खुबसूरत औरत से इर्ष्या करती है "

" The foolish people envy wisely. A woman walking the wrong path is jealous of a holy woman. Ugly woman jealous beautiful woman "


07).
Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 


" खाली बैठने से अभ्यास का नाश होता है
 दुसरो को देखभाल करने के लिए देने से पैसा नष्ट होता है
 गलत ढंग से बुवाई करने वाला किसान 
अपने बीजो का नाश करता है
 यदि सेनापति नहीं है तो सेना का नाश होता है "

" The practice of sitting empty is destroyed. Giving money to others is wasted. The farmer who sows incorrectly destroys his seeds. If not commander, army is destroyed "


08).
Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 


" अर्जित विद्या अभ्यास से सुरक्षित रहती है.
घर की इज्जत अच्छे व्यवहार से सुरक्षित रहती है.
अच्छे गुणों से इज्जतदार आदमी को मान मिलता है.
किसीभी व्यक्ति का गुस्सा उसकी आँखों में दिखता है "

" Earned learning is safe from practice.
Respect for the house is protected from good behavior.
A person with good qualities gets respect.
The anger of any person is visible in his eyes "


09). 
Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 

"  धर्मं की रक्षा पैसे से होती है.
ज्ञान की रक्षा जमकर आजमाने से होती है.
राजा से रक्षा उसकी बात मानने से होती है.
घर की रक्षा एक दक्ष गृहिणी से होती है "

" Religion is protected by money.
Wisdom is protected by fierce experimentation.
The king is protected from obeying him.
The house is protected by a skilled housewife "


10).
Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 

" जो वैदिक ज्ञान की निंदा करते है,
शास्र्त सम्मत जीवनशैली की मजाक उड़ाते है
 शांतीपूर्ण स्वभाव के लोगो की मजाक उड़ाते है
 बिना किसी आवश्यकता के दुःख को प्राप्त होते है "

" Those who condemn the Vedic knowledge, make fun of the Shastra Shanta lifestyle, make fun of the people of peaceful nature, get sadness without any need "


11). 
Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 

" दान गरीबी को ख़त्म करता है
 अच्छा आचरण दुःख को मिटाता है
 विवेक अज्ञान को नष्ट करता है
 जानकारी भय को समाप्त करती है "

" Donation eliminates poverty. Good conduct eradicates sorrow. Honesty destroys ignorance. Information eliminates fear "



12).
Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 

" वासना के समान दुष्कर कोई रोग नहीं
 मोह के समान कोई शत्रु नहीं
 क्रोध के समान अग्नि नहीं
 स्वरुप ज्ञान के समान कोई बोध नहीं "

" No disease is as painful as lust. There is no enemy like fascination. No fire like anger. No sense like knowledge "


13).
Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 


" व्यक्ति अकेले ही पैदा होता है
अकेले ही मरता है
 अपने कर्मो के शुभ अशुभ परिणाम 
अकेले ही भोगता है
 अकेले ही नरक में जाता है
 या सदगति प्राप्त करता है "

" A person is born alone. Dies alone He alone suffers the auspicious inauspicious results of his deeds. Alone goes to hell or attains goodwill "


14).

Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 


" जिसने अपने स्वरुप को जान लिया 
उसके लिए स्वर्ग तो तिनके के समान है
 एक पराक्रमी योद्धा अपने जीवन को तुच्छ मानता है
 जिसने अपनी कामना को जीत लिया 
उसके लिए स्त्री भोग का विषय नहीं
 उसके लिए सम्पूर्ण ब्रह्माण्ड तुच्छ है 
जिसके मन में कोई आसक्ति नही "

"  For anyone who knows his nature, heaven is like a straw. A mighty warrior despises his life. For the one who has won her wish, it is not a matter of female enjoyment. For him, the entire universe is insignificant with no attachment in mind "


15).

Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 


" जब आप सफ़र पर जाते हो 
तो विद्यार्जन ही आपका मित्र है
 घर में पत्नी मित्र है
 बीमार होने पर दवा मित्र है
अर्जित पुण्य मृत्यु के बाद एकमात्र मित्र है "

" When you go on a trip, learning is your friend. Wife is a friend at home. A medicine friend is sick. Earned virtue is the only friend after death "


16).

Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 


" समुद्र में होने वाली वर्षा व्यर्थ है
जिसका पेट भरा हुआ है 
उसके लिए अन्न व्यर्थ है
 पैसे वाले आदमी के लिए भेट वस्तु का कोई अर्थ नहीं
 दिन के समय जलता दिया व्यर्थ है "

" Rain in the sea is meaningless. Food is meaningless for someone whose stomach is full. Bhat item has no meaning for a man with money. Burning during the day is futile "


17).

Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi


" वर्षा के जल के समान कोई जल नहीं
 खुदकी शक्ति के समान कोई शक्ति नहीं
 नेत्र ज्योति के समान कोई प्रकाश नहीं
 अन्न से बढ़कर कोई संपत्ति नहीं "

"  There is no water like rain water. There is no power like own power. There is no light like the eye light. No property more than food "


18).

Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 


" निर्धन को धन की कामना
 पशु को वाणी की कामना
 लोगो को स्वर्ग की कामना
 देव लोगो को मुक्ति की कामना "

" Wishing the poor money Wish animal to speak. Wish people heaven Wish the Gods salvation "


19).

Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 


" सत्य की शक्ति ही इस दुनिया को धारण करती है
 सत्य की शक्ति से ही सूर्य प्रकाशमान है
 हवाए चलती है
 सही में सब कुछ सत्य पर आश्रित है "

" The power of truth holds this world. The Sun is bright by the power of truth, the wind moves, everything in truth depends on truth "


20).

Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 

" लक्ष्मी जो संपत्ति की देवता है
 वह चंचला है. हमारी श्वास भी चंचला है
 हम कितना समय जियेंगे इसका कोई ठिकाना नहीं
 हम कहा रहेंगे यह भी पक्का नहीं
कोई बात यहाँ पर पक्की है तो
 यह है की हमारा अर्जित पुण्य कितना है "

" Lakshmi, the god of wealth, is fickle. Our breathing is also fickle. No matter how long we will live. We will not be sure even this. If something is confirmed here, it is how much our earned virtue is "



21). 
Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 


" आदमियों में नाई सबसे धूर्त है
 कौवा पक्षीयों में धूर्त है
 लोमड़ी प्राणीयो में धूर्त है
औरतो में लम्पट औरत सबसे धूर्त है "

" The barber is the most sly among men. The crow is sly among the birds. The fox is sly in life. Lustful woman is the most sly among women "


22). 
Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 

" ये सब आपके पिता है,
1). जिसने आपको जन्म दिया
2). जिसने आपका यज्ञोपवित संस्कार किया
3). जिसने आपको पढाया
4). जिसने आपको भोजन दिया
5). जिसने आपको भयपूर्ण परिस्थितियों में बचाया "

" This is your father, 1. Who gave birth to you 2. Who performed your sacrificial ritual. 3. Who taught you 4. Who gave you food 5. Who saved you in fearful situations "


23). 
Chanakya Niti in Hindi
Chanakya Niti in Hindi 

"  इन सब को  आपनी माता समझें 
1). राजा की पत्नी 
2). गुरु की पत्नी
3). मित्र की पत्नी
4). पत्नी की माँ
5). आपकी माँ "

" Consider them all as your mother 1.King's wife 2. Guru's wife 3. Friend's wife 4.Wife's mother 5. Your mother "




Previous       Next

Post a Comment

0 Comments